बजट में खास वर्ग के 75 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए खुशखबरी, बुजुर्गों को ITR भरने से छूट देने का ऐलान

New Delhi:  केंद्रीय बजट में पेंशनभोगी और ब्याज से आय वाले बुजुर्गों को इनकम टैक्स रिटर्न भरने (ITR Filing) से छूट देने का ऐलान किया गया है। वित्त मंत्री ने कहा कि भारत की आजादी के 75वें वर्ष के उपलक्ष्य में बुजुर्गों को यह तोहफा दिया जा रहा है।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नए बजट में खास वर्ग के अति वरिष्ठ नागरिकों को इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) भरने से छूट देने का ऐलान किया है। उन्होंने अपने तीसरे बजट के प्रावधानों की घोषणा करते हुए कहा कि 75 वर्ष और इससे ऊपर की उम्र के उन बुजुर्गों को आईटीआर भरने की जरूरत नहीं होगी जिनकी आजीविका पेंशन या बैंकों में जमा धन पर मिलने वाले ब्याज पर निर्भर है।

वित्त मंत्री ने कहा- बजुर्गों को प्रणाम
सीतारमण ने संसद में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश करते हुए कहा, “मैं अपने प्रत्यक्ष कर प्रस्तावों (Direct Tax Proposals) की शुरुआत अपने वरिष्ठ नागरिकों को प्रणाम के साथ करती हूं। उनमें से अनेक ने अपनी स्वयं की अनेक बुनियादी जरूरतों को त्यागने के बावजूद अपने देश का निर्माण करने का प्रयास किया है।”

देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर बुजुर्गों को तोहफा
उन्होंने कहा कि भारत की स्वतंत्रता के 75वे वर्ष के मौके पर देश के बुजुर्गों को यह राहत दी जा रही है। उन्होंने कहा, “अब अपने देश की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष में जब हम नए जोश और उत्साह के साथ राष्ट्र-निर्माण में लगे हुए हैं, हम 75 वर्ष और इसके अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों पर कर-अनुपालन (Tax Compliance) का बोझ कम करेंगे। जिन वरिष्ठ नागरिकों के पास केवल पेंशन और ब्याज से होने वाली आय (Income from pension and interest) है, उनके लिए मैं उन्हें आयकर विवरणी दर्ज करने (Income Tax Return Filing) से छूट का प्रस्ताव रखती हूं। भुगतानकर्ता बैंक (Paying Bank) उनकी आय पर आवश्यक कर की कटौती कर लेगा

बजट में सरकार के हाथ तंग
दरअसल, वित्त वर्ष 2021-22 की बजट घोषणा से इतना तो संकेत मिल गया है कि कोविड-19 महामारी के कारण सरकार के पास नागरिकों को देने के लिए बहुत कुछ बचा नहीं है। इस कारण जमीन पर कुछ ठोस घोषणाओं की जगह प्रतीकात्मक राहत के ही ऐलान हुए हैं। सैलरीड क्लास को तो बिल्कुल मायूसी हाथ लगी है, उसे सांकेतिक राहत भी नहीं दी गई

Source- Navbharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *