समुद्र किनारे देखे गए डायनासौर के पैर, वैज्ञानिक बोले,220 मिलियन साल पुराना हो सकता है ये निशान

New Delhi: एक युवा लड़की (Young Girl) ने वेल्श समुद्र तट (Welsh Beach) पर डायनासोर के पदचिह्न (Dinosaur Footprint) को खोजकर एक बड़ी खोज की है. वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि यह 220 मिलियन साल पुराना हो सकता है.

एक युवा लड़की (Young Girl) ने वेल्श समुद्र तट (Welsh Beach) पर डायनासोर के पदचिह्न (Dinosaur Footprint) को खोजकर एक बड़ी खोज की है. द इंडिपेंडेंट की रिपोर्ट के मुताबिक, लिली वाइल्डर दक्षिण वेल्स (South Wales) में बैरी (Barry) के पास एक समुद्र तट के साथ चल रही थी, जब उसने पदचिह्न देखा. वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि 220 मिलियन साल पुराने पदचिह्न हमें बेहतर तरीके से समझने में मदद कर सकते हैं कि डायनासोर कैसे चलते थे.

41 वर्षीय लिली की मां सैली वाइल्डर ने एनबीसी न्यूज से शनिवार को कहा, “यह लिली के लिए कम ऊंचाई पर था, और लिली के लिए कंधे की ऊंचाई थी और उसने कहा, “डैडी देखो. “जब रिचर्ड ने घर आकर मुझे वह तस्वीर दिखाई तो मुझे लगा कि यह आश्चर्यजनक है.”रिचर्ड देखकर हैरान रह गए. मैंने एक्सपर्ट्स को कॉल किया, वो आए और उस पर रिसर्च शुरू कर दी.’

लिली वाइल्डर ने बेंड्रिक्स बे में डायनासोर के पदचिह्न पाए – एक समुद्र तट जो अपने डायनासोर के पैरों के निशान के लिए जाना जाता है. लेकिन लिली की खोज डायनासोर के पैरों के निशान के लिए जाने जाने वाले समुद्र तट के लिए भी असाधारण है. वेल्स म्यूजियम के नेशनल म्यूजियम ऑफ पीएऑनटोलॉजी क्यूरेटर सिंडी हॉवेल्स ने इस खोज को “इस समुद्र तट पर पाया जाने वाला सबसे अच्छा नमूना” बताया.

Source- NDTV Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *