ममता का आरोप : नंदीग्राम के RO को जान मारने की धमकी दी गई, फर्जीवाड़ा कर रिजल्ट बदल दिया

New Delhi : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार और चुनाव आयोग पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने आज प्रेस को संबोधित करते हुये कहा कि नंदीग्राम के रिटर्निंग ऑफिसर ने मुझे व्हाट‍्सऐप मैसेज भेजा कि अगर मैं रीकाउंटिंग कराउंगा तो मेरी और मेरे परिवार की जान पर बन आयेगी। हमें जिंदा नहीं बख्शा जायेगा। आखिर ऐसा क्या हुआ कि मेरे चुनाव जीत जाने की घोषणा कर दी गई। राज्यपाल ने भी मुझे मेरी जीत पर मुझे बधाई दे दी और उसके बाद सर्वर फेल हो गया। चार घंटे तक तकनीकी समस्या रही। किसी को कोई जानकारी नहीं दी जा रही थी। और फिर एकाएक मेरे हार जाने का ऐलान कर दिया गया।

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1389241856433741824?s=20

जब हमने रीकाउंटिंग की मांग की तो आरओ ने कहा कि मुझे डराया जा रहा है। ऐसा क्यों? ऐसा क्या था कि उसे और उसके परिवार को जान मार देने की धमकी जा रही थी। साफ है कि इस मामले में धांधली की गई। ईवीएम मशीनों के साथ गड़बड़ियां की गईं। आखिर ऐसा क्या हो गया कि चुनाव आयोग ने रीकाउंटिंग को सिरे से खारिज कर दिया। उनको रीकाउंटिंग कराने में क्या समस्या थी।
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यह माफियागिरी की पराकाष्ठा है। ऐसा कहां होता है। मैं और मेरी पार्टी इस फैसले के खिलाफ अब कोर्ट जायेंगे। जो हुआ है वो बेहद शर्मसार करनेवाली घटना है। चुनाव आयोग की नीयत पर तो शुरू से शक रहा है और इस मामले में तो हद ही हो गई। कोई भी कह सकता है कि इसमें खुलेआम धांधली की गई है। उनके कहने पर उनके एक सहयोगी ने मंच पर ही रिटर्निंग ऑफिसर का व्हाट‍्सऐप मैसेज पढ़ा जो अंग्रेजी में ममता बनर्जी के नंबर पर भेजा गया था। इस मैसेज में रिटर्निंग ऑफिसर गिरगिरा रहे हैं कि वे अगर रीकाउंटिंग की पहल करेंगे तो उनके और उनके परिवार के जीवन पर खतरा है, प्लीज माफ कर दीजिये।
बता दें कि पश्चिम बंगाल चुनाव में भाजपा का कोई पैंतरा काम नहीं आया। वहां पैसा पानी की तरह बहाया गया। लेकिन रिजल्ट से साफ हो गया कि वहां की पब्लिक के दिलों पर ममता बनर्जी राज करती हैं। उन्होंने बहुमत के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिये। बस नंदीग्राम सीट से वे खुद करीब 2000 मतों से हार गईं। हालांकि पहले उनके 1200 मतों से जीत जाने की घोषणा की गई थी। ममता बनर्जी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी डर रही है कि नंदीग्राम में अगर रीकाउंटिंग कराया गया तो उनकी पोल खुल जायेगी। वे माफियागिरी कर रहे हैं। लेकिन बंगाल में ऐसा नहीं होगा। गुंडागर्दी नहीं होने दी जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *