राम के किरदार के लिए अरुण ने छोड़ी थी सि’गरे’ट की लत, आज 31 साल बाद ऐसे बिता रहे जिंदगी

NEW DELHI: 90 के दशक के किसी भी शख्स से अगर ‘रामायण’ के बारे में बात करे तो वो रामानंद सागर की ‘रामायण’ का ही जिक्र करेगा। हो भी क्यों ना..इस रामायण के सभी किरदारों ने लोगों का दिल जीत लिया था। राम,लक्ष्मण और रावण का किरदार तो आज भी लोगों की आंखों के सामने घूमता है। आज रामानंद सागर की रामायण के राम यानी अरुण ग्रोविल का जन्मदिन है। आज वो 61 साल के हो गये हैं।

रामायण भले ही टीवी पर ना दिखी हो लेकिन अरुण ग्रोविल आज भी लोगों के दिलों में जिंदा है। कहा जाता है कि अरुण को लिए राम का रोल प्ले कर पाना बहुत मुश्किल था। उन्होंने खुद एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया था कि उन्होंने राम का रोल पाने के लिए कितनी मशक्कत की थी। उन्होंने बताया कि पहले रामानंद सागर ने मुझे राम के रोल के लिए रिजेक्ट कर दिया था..क्योंकि में सि’गरे’ट बहुत पीता था। रामानंद सागर का मानना था कि राम का रोल वहीं प्ले करेंगा जो असल जिंदगी में भी राम हो..और किसी भी गंदी आदत का शिकार ना हो..मैंने ये रोल पाने के लिए सारी बुरी आदतें छोड़ दी थी।

अरुण को जितनी पॉपुलैरिटी राम का किरदार करने पर मिली..शायद की किसी और एक्टर को मिल पाती। वो राम बनकर हर किसी के दिल में उतर गये थे। एक्टर पिछले काफी सालों से स्क्रीन से गायब हैं अब वो ना तो किसी सीरियल में नजर आते हैं..ना नहीं किसी फिल्म में। अरुण ने अब खुद का प्रोड्क्शन हाउस खोल लिया है। जिसमें वो अपने ऑन स्क्रीन भाई यानी लक्ष्मण के साथ काम कर रहे हैं। फिलहाल वो अपने काम पर फोकस करना चाहते हैं।

Comments are closed.