स्मार्ट फ़ोन के अभाव में रुक गयी थी भाई -बहनों की पढाई, सोनू ने कहा- कर लो दुनिया मुट्ठी में

New Delhi : परदे पर विलेन का किरदार निभाने वाले सोनू सूद ने लॉकडाउन पीरियड में अपना एक अलग ही पर्सनालिटी दिखाया । सोनू का ये व्यक्तितव ‘लार्जर देन लाइफ’ बनकर ऐसा उभरा है कि जिसमें उनका छेदी सिंह का केरैक्टर कहीं गुम हो गया और रियल लाइफ हीरो के रूप में उभरकर सामने आया ।जब पूरा देश घर में बंद था और गरीब -बेसहारे सडक पर ख़ाक छान रहे थे ,उनकी आवाज़ सुनाने वाला कोई था। ऐसी विकट परिस्थिति में सोनू ने न सिर्फ उनकी आवाज़ सुनी बल्कि मदद के लिए हाथ भी बढाया। किसी भी जरुरत मंद को सोनू ने निराश नहीं किया । सच कहें तो हर दिन एक नए सोनू से लोग अवगत हो रहे हैं ।

इस बार उन्होंने उन बच्चों की पुकार सुनी है जिनकी पढाई में एक बड़ा अड़चन स्मार्ट फ़ोन की वजह से है। जैसा कि सबको पता है कोरोना के इस महामारी के दौर में सारे स्कूल -कॉलेज बंद हैं और बच्चे ऑनलाइन पढाई कर रहे हैं ।ऐसे में इन बच्चों को अपनी ऑनलाइन पढाई को जारी रखने के लिए स्मार्ट फ़ोन के उपयोग के लिए हर दिन काफी दूर पैदल चलकर जाना पड़ता है ।ये बच्चे हैं ,करमजीत और उनकी दो बहनें जो हरियाणा के सुदूर मोरनी गाँव के बदिशेर में रहते हैं ।करमजीत ग्यारहवीं के छात्र हैं और उनकी दोनों बहनें क्रमशः पांचवीं और सातवीं की छात्रा हैं। इन्हें अपने एक साथी रिंकू के घर जाकर उसके फ़ोन से पढाई करनी पड़ती है । इन बच्चों के माता -पिता की स्थिति इतनी दयनीय है कि वे किसी तरह अपना गुजर बसर कर पाते हैं । ऐसे में स्मार्ट फ़ोन खरीद पाना उनके लिए संभव नहीं है।इन बच्चों ने मदद की गुहार अपने एरिया के डी सी से किया था लेकिन एक महिना बीत चुका है इनकी परेशानी ज्यों की त्यों बनी हुई है । अब हालत ये है कि या तो ये पढाई छोड़ दे या परिस्तिथि से समझौता कर लें ।

अपने भारतीय रॉबिन हूड जब इनकी परेशानी से अवगत हुए तब उन्होंने उन बच्चों को ये आश्वासन देने में तनिक भी देर नहीं की।अब उन्हें अपनी पढाई के लिए इतनी परेशानी उठाने की जरुरत नहीं है ।उन्हें उनका स्मार्ट फ़ोन बहुत जल्दी ही मिल जायेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *