बंगाली अभिनेता स्वरूप दत्ता की 78 वर्ष में ब्रेन स्ट्रोक से हुई मौ’त..

New Delhi:  बंगाल के फेमस एक्टर Swarup Dutta , जिन्हें 60 और 70 के दशक की फिल्मों में उनकी बेहतरीन भूमिकाओं के लिए जाना जाता है, का आज निधन हो गया। उन्होंने सुबह 6 बजकर 10 मिनट पर अंतिम सांस ली।

शनिवार को अचानक उनकी तबियत बिगड़ी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। उनकी मौ’त का कारण ब्रेन स्ट्रोक बताया जा रहा है। उनकी मौ’त से  बंगाली फिल्म इंडस्ट्री को अपूर्णीय क्षति हुई है।

स्वरुप दत्ता का जन्म 22 जून 1941 को हुआ। स्कूल के दिनों से ही  उन्हें फिल्मों में काम करने की रूचि  थी। पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने अभिनय की शुरुआत की। फिल्मी करियर में सफलता के बाद उन्हें सौमित्र चटर्जी के नाम से जाने जाना लगा।उनके परिवार में पत्नी और बेटा शरन दत्ता है।  बेटा शरन भी अभिनेता है।

मुख्यमंत्री Mamata Banerjee ने भी उनके निधन पर शो’क जताते हुए कहा, ‘अपनजान’ में उनके अद्वितीय अभिनय ने दर्शकों पर अमिट छाप छोड़ी। वहीं अभिनेता सुदीप्त चक्रवर्ती ने भी दत्ता की मृ’त्यु पर शो’क व्यक्त करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, बंगाली सिनेमा का स्वर्ण युग जैसा कि इन दिग्गजों द्वारा दर्शाया गया था, दूर हो गया है।

यह भी पढ़ें  ‘मिशन मंगल’ के ट्रेलर लॉन्च के लिए हैदराबाद से मुंबई रवाना हुई सोनाक्षी सिंहा..

स्वरूप  दत्ता ने  1968 में तपन सिन्हा की फिल्म ‘अपनजान’ से अपने करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने   ‘सगीना महतो’, ‘हारमोनियम’, ‘पिता पुत्र’, ‘मा ओ मेया’ जैसी कई फिल्मों में  काम किया,जिसमें उनके  अभिनय को काफी सराहा गया। 70 के दशक में उनकी फिल्में काफी फेमस रही। इसके बाद बंगाली सिनेमा में उनको काफी पहचान मिली।अभिनेत्री जया भादुरी के साथ उन्होंने हिन्दी फिल्म ‘उपहार’ में भी काम किया है।